85% भारतीय चाहते हैं वायु प्रदूषण पर कठोर कानूनः नये सर्वे में खुलासा

Survey by Clean air fund

क्लीन एयर फंड द्वारा एक सर्वे में सामने आया है कि देश के 85% लोग चाहते हैं कि वायु प्रदूषण पर नकेल कसने के लिये कठोर कानून लाया जाये और नियमो का पालन किया जाये। साथ ही 90% भारतीय अपने शहर की हवा को साफ देखना चाहते हैं। सर्वे में शामिल ज्यादातर लोगों ने वायु प्रदूषण को स्वास्थ्य और पर्यावरण का खतरा माना है।

क्लीन एयर फंड के कार्यकारी निदेशक जेन बर्स्टन ने कहा, ‘दुनिया भर के लोग अपनी सरकार से साफ हवा की मांग कर रहे हैं। लॉकडाउन जैसे ही खत्म होगा और आर्थिक गतिविधी शुरु होगी, लोग फिर से खराब हवा में सांस नहीं लेना चाहते।’

 

क्लीन एयर फंड ने वायु प्रदूषण से निपटने के लिये एक विशेष स्वास्थ्य और पर्यावरण नीति बनाने, कोरोना संकट से निपटने के लिये जारी आर्थिक पैकेड में वायु प्रदूषण से निपटने के उपाय पर फोकस करने, पैदल चलने और साइकिल चलाने के लिए शहर की सड़कों को अनुकूल बनाने, और लॉकडाउन के दौरान अनुभव किये साफ हवा और नीले आकाश को जारी रखने के लिये नीति बनाने की मांग की है।

जेन बर्सटन ने आगे जोड़ा, “हवा की गुणवत्ता में सुधार करने के लिए कार्रवाई अभी संभव और लोकप्रिय है और इससे जलवायु परिवर्तन को कम करने में भी मदद मिलेगी। सरकारों को साफ हवा के लिये मिल रहे इस व्यापक सार्वजनिक समर्थन का इस्तेमाल करना चाहिए और हमारे स्वास्थ्य और पर्यावरण की रक्षा के लिए पोस्ट-कोविड रिकवरी पैकेज का उपयोग करना चाहिए। ”

LEAVE A REPLY